Vyanjan (व्यंजन)


जिन वर्णों का उच्चारण स्वर की सहायता से होता है उन्हें व्यंजन कहते हैं।


व्यंजन के भेद

ये तीन प्रकार के होते हैं। :
(1) स्पर्श व्यंजन
(2) अन्तस्थ व्यंजन
(3) उष्म व्यंजन

स्पर्श व्यंजन (Sparsh Vyanjan)

क से लेकर म तक होते हैं। इनकी संख्या 25 होती हैं। प्रत्येक वर्ग में पांच अक्षर होते हैं।


क वर्ग : क ख ग घ ङ
च वर्ग : च छ ज झ ञ
ट वर्ग : ट ठ ड ढ ण
त वर्ग : त थ द ध न
प वर्ग : प फ ब भ म

अन्तस्थ व्यंजन (Antasth Vyanjan)

इनकी संख्या 4 होती है।
य, र, ल, व

उष्म व्यंजन (Ushm Vyanjan)

इनकी संख्या भी 4 होती है।
श, ष, स, ह

उच्छिप्त व्यंजन (Uchchhipt Vyanjan)

यह दो होते हैं
ढ़, ड़
इनको द्विगुण व्यंजन (Dwigun Vyanjan) भी कहा जाता है।

संयुक्त व्यंजन (Sanyukt Vyanjan)

क्ष - क् + ष्
त्र - त् + र्
ज्ञ - ज् + ञ्
श्र - श् + र्

You can learn more about Hindi Varnamala (हिंदी वर्णमाला) के बारे में और अधिक जाने.

Learn more in Hindi Grammar

Vyanjan in Hindi

What is Vyanjan (Consonants) in hindi grammar? व्यंजन Kya Hai and Varnamala Vyanjan ke prakar / bhed with some examples in Hindi. Types of Vyanjan: Sparsh, Antasth, Ushm, Sanyukt.

जानें कुछ नयी रोचक चीजे भी :
DMCA